Desi Nuskhe

गुणकारी हल्दी:- हल्दी का प्रयोग करने से खून साफ़ होता है तथा शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है. अत: भारतीय पदधति के अनुसार भोजन मैं हल्दी का सेवन अवश्य करें.
जलने पर मेथी का प्रयोग:- मेथी दाने को पानी के साथ पीस कर लेप बना लें. इस लेप को जले हुए भाग पर लगाने से जलन शांत हो जाती हैं .
मुनक्का:- चार से पाँच मुनक्कें आधा गिलास पानी मैं एक घंटे के लिए भिगो दें. अब इन मुनक्कों को इस पानी मैं मथ लें. यह पानी पीने से चक्कर आने बंद हो जाते हैं.
मूंगफली दाना सेहत का खज़ाना:- व्रत में मूंगफली दाना तल कर खाने के स्थान पर भिगो कर खाएं. रात को थोड़ा सा मूंगफली दाना भिगोकर रखें तथा नाश्ते में इसे चबा चबा कर खाएं, यह शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है.
स्वास्थ्य हेतु जीरा है हीरा:- जीरा आयरन का बहुत अच्छा स्त्रोत है. इसके नियमित सेवन से खून की कमी दूर होती है, पेट सबंधी रोगों तथा एसिडिटी से राहत हेतु जीरा बहुत लाभकारी है.
शारीरिक दुर्बलता:- प्रतिदिन पाँच खजूर खा कर ऊपर से दूध पीने से शारीरिक दुर्बलता दूर होती है.
सिर दर्द:- दालचीनी को पीस लें. इसे पानी में मिलाकर पेस्ट बना लें तथा इस लेप को माथे पर लगा लें. इस प्रयोग को करने से सिरदर्द तुरंत ही ठीक हो जाता है.
सर्दी जुकाम:- सर्दी जुकाम होने पर एक चम्मच शहद में १/४ चम्मच दालचीनी चूर्ण मिलाकर दिन में तीन बार सेवन करें. ऐसा करने से पुराना कफ भी निकल जाता है.
चेहरे के बाल हटाएं बेसन:- दो चम्मच बेसन में एक चुटकी हल्दी तथा थोड़ा सा पानी मिलकर पेस्ट बना कर चेहरे पर लगा लें. सूखने पर मुहं धो लें. इस प्रयोग से चेहरे के बाल काम होकर त्वचा चिकनी हो जाती है.
दाँत का दर्द:- दाँत का दर्द होने पर एक गिलास पानी में पाँच लौंग डालकर उबालें. थोड़ा ठंडा होने पर इस पानी से कुल्ले करें, दर्द में राहत मिलेगी.
हाथ पैरों की जलन:- हाथ पैरों में जलन की समस्या होने पर मोटी सौंफ, साबुत धनिया व मिश्री बराबर मात्रा में पीसकर, दोनों समय भोजन के पश्चात १-१ चम्मच की मात्रा में पानी से लेने से कुछ ही दिनों में आराम हो जाता हैं.
नुस्खा:- सोंठ को मोटा मोटा कूट कर, आधा चम्मच चूर्ण दो कप पानी में उबाल कर काढ़ा बनाएं. जब पानी आधा कप बचे तब उतार कर ठंडा कर लें और इसमें २ चम्मच अरण्डी का तेल डाल कर सोने से पहले पिएँ . यह प्रयोग कमर, पेट और कूल्हे के दर्द को दूर करता है.
दिमाग तथा आँखों की ताकत बढ़ाने वाला आसान और असरकारक नुस्खा:- महीन कतरे हुए मीठे बादाम की गिरी – ७ नग को सौंफ और मिश्री की ६-६ माशे पीसी हुई मात्रा के साथ मिलाकर रात को सोने से पहले गरम दूध के साथ खूब चबाकर खा लें. प्रतिदिन इस प्रयोग को करने से दिमाग तथा आँखों को बल मिलता है. जिनकी नजर कमजोर दिमाग कमजोर हो उन्हें नित्य यह प्रयोग करना चाहिए.