PMS problems :Say them good bye!!

मासिक के दौरान होने वाली तकलीफदेह ऐंठन को दूर करने के लिए अपने पेट और कमर के निचले हिस्से पर गर्म पानी की थैली रखना और साथ ही इस दौरान दुग्ध उत्पादों, मांस और दालों के सेवन से बचना आपको इस समस्या में काफी आराम दिला सकता है। यह कहना है विशेषज्ञों का।
राजधानी दिल्ली स्थित इरीन आईवीएफ सेंटर की निदेशक इंदिरा गणेशन ने इस दर्द को कम करने के लिए कुछ टिप्स दिए हैं:
* पेट और कमर के निचले हिस्से पर गर्म पानी की थैली रखना और गर्म पानी से स्नान लेना इस समस्या में तत्काल आराम दिला सकता है।
* कई प्रकार की चाय, जैसे कि अदरक, जैस्मिन (चमेली) और कैमोमाइल (बबूने का फूल) की चाय पीने से भी दर्द में राहत मिलती है और यह शरीर की नमी को बनाए रखकर खून की कमी से लडऩे में भी मदद करता है। वॉटर रिटेंशन यानी जल प्रतिधारण की समस्या से ग्रस्त लड़कियों या महिलाओं को डेंडिलियोन (पीले फूल का एक प्रकार को पौधा) की चाय का सेवन काफी आराम दिला सकता है।
* मासिक धर्म की तकलीफ को कम करने के लिए विटामिन बी, ई, सी और फोलेट जैसे कई सप्लीमेंट्स लेना भी फायदेमंद रहेगा।
* फलों और हरी पत्तेदार सब्जियों जैसे रेशे से भरपूर आहार लें, जिनमें विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में होते हैं। ऐलोवेरा जूस और पपीता भी मासिक की ऐंठन को दूर करने में बेहद मददगार है।
* इस दौरान दुग्ध उत्पादों, मांस और दालों के सेवन से बचें, क्योंकि ये चीजें पेट में गैस उत्पन्न कर दर्द को बढ़ा सकती हैं।
* कॉफी का सेवन भी न करें, क्योंकि यह रक्त नलिकाओं को संकुचित कर बेचैनी, ऐंठन और दर्द को बढ़ा सकती है।
* हल्का व्यायाम, योग और स्ट्रेचिंग ऐंठन के कारण होने वाले दर्द से छुटकारा दिलाने में सहायक है।
* मसाज भी इस स्थिति में काफी आराम देगीऔर ऐंठन को दूर करने में सहायक होगी। पेट के निचले हिस्से में लैवेंडर का तेल लगाएं।
* एसिटामिनोफेन (पैरासिटामोल) और मेफनेमिक एसिड जैसी दर्द निवारक दवाएं, दर्द से छुटकारा दिलाने और रक्तस्राव को कम करने में मददगार होंगी।
* इस स्थिति में दर्द कम करने के लिए एक्यूप्रेशर के भी अच्छे परिणाम देखे गए हैं।

– See more at: http://www.patrika.com/news/body-soul/steps-to-get-rid-of-problems-which-happen-during-periods-1152044/#sthash.GGzdtt0r.dpuf